जानिए कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी के वह कौनसे गुण हैं जिन्हें अपनाकर आप भी बन सकते हैं सफल व्यक्ति!

एमएस धोनी के ये गुण आपको जीवन में बना सकते हैं एक सफल व्यक्ति

भारतीय क्रिकेट टीम और इससे जुड़े खिलाड़ी हमेशा से ही अपने करोड़ों फैंस के लिए इंस्पिरेशन बने हुए हैं। सचिन तेंदुलकर, कपिल देव, विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी कुछ ऐसे नाम है जिन्हें हर कोई प्रेरणा के रूप में देखता है। भारत में क्रिकेट को विशेष दर्जा प्राप्त है और यहां के खिलाड़ियों को सबसे अधिक सम्मान और प्रेम मिलता रहा है। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी एक ऐसे खिलाड़ी के तौर पर देखे जाते हैं जिनका जीवन हर किसी के लिए प्रेरणादायक रहा है।

यह भी पढ़ें : के एल राहुल और अथिया शेट्टी के वास्तविक रिश्ते के बारे में जाने

रांची जैसे छोटे शहर से लेकर क्रिकेट जगत के लीजेंडरी खिलाड़ी बनने के सफर में धोनी के कई ऐसे गुण देखने मिले हैं जो उन्हें एक सफल व्यक्ति के रूप में स्थापित करता है। एमएस धोनी एक ऐसे खिलाड़ी के रूप में जाने जाते हैं जिन से ना सिर्फ खिलाड़ी बल्कि हरेक व्यक्ति प्रेरणा लेता है। T20 क्रिकेट के साथ आईपीएल जैसे खेलों में भी उनकी सहभागी अतुलनीय मानी जाती है। खेल के प्रति अपने समर्पण के चलते धोनी को कई बड़े राष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित भी किया जा चुका है। आज हम धोनी के कुछ ऐसे ही गुणों पर बात करेंगे जिन्हें अपनाकर आप भी अपने जीवन में सफलता हासिल कर सकते हैं।

बने कैप्टन कूल –
महेंद्र सिंह धोनी विश्व क्रिकेट में अपने आक्रामक बल्लेबाजी के लिए मशहूर हैं। धोनी द्वारा लगाए गए छक्के चौके आज भी क्रिकेट जगत में एक रिकॉर्ड के तौर पर जाने जाते हैं। लेकिन धोनी की सबसे बड़ी काबिलियत ही यह है कि वह क्रिकेट मैदान से लेकर अपने असल जीवन में खुद को शांत रखते हैं। इसी कारण वर्ष उनका नाम कैप्टन कूल प्रसिद्ध हुआ। जीवन हो या खेल खुद को स्थिर और शांत रखने वाला व्यक्ति ही सफलता प्राप्त करता है।

टिके रहना –
यह महेंद्र सिंह धोनी की एक और बड़ी काबिलियत है कि वह हर परिस्थिति का डटकर सामना करते हैं। खेल के दौरान भी धोनी का यह गुण देखने मिलता है, जहां टीम के अन्य खिलाड़ी दवाब में आकर छक्के चौके लगाने लगते हैं वहीं धोनी खुद को सुरक्षित रख मैदान पर टिके रहते हैं और अंत में जीत अपने नाम कर जाते हैं।

आशावादी कप्तान –
एम एस धोनी क्रिकेट जगत के इकलौते ऐसे कप्तान हैं जिन्होंने क्रिकेट की तीनों वर्ल्ड कप सभी ट्रॉफियां अपने नाम की हैं। धोनी की सबसे बड़ी काबिलियत यह है कि वह एक टीम प्लेयर हैं यानी उन्हें टीम को मैनेज करना बखूबी आता है। परिस्थितियां कितनी भी गंभीर क्यों ना हो वह हमेशा आशावादी दृष्टिकोण रखते हैं और यही दृष्टिकोण अपनी टीम के बीच में महसूस कराते हैं।

अनुशासन –
एक खिलाड़ी के जीवन में अनुशासन का होना सबसे जरूरी माना जाता है। हालांकि यह बात आम लोगों के जीवन पर भी उतनी ही लागू होती है। एम एस धोनी की सफलता के पीछे उनका अनुशासित होना एक गुण ही माना जाएगा। जहां अन्य खिलाड़ी पार्टी या अन्य प्रकार के शौक रखते हैं वही धोनी अपने खेल के प्रति अनुशासन रखना पसंद करते हैं जो उन्हें फिटनेस और मानसिक शांति देता है।

यह भी पढ़ें : दीपक चाहर की जीवनी, लाइफस्टाइल और नेट वर्थ २०२० से

अपने पसंदीदा खेल और खिलाड़ियों से जुड़ी हर जानकारी और अपडेट पाने के लिए बने रहें IWMBuzz.com के साथ!

Also Read

Latest stories